अभिक्रिया की आणविकता तथा कोटि मेँ अन्तर

1. किसी रासायनिक  अभिक्रिया मेँ भाग लेने वाले अभिकारक अणुओँ की कुल संख्या को उसकी अण्विकता कहते हैँ । तथा किसी रासायनिक अभिक्रिया मेँ भाग लेने वाले अणुओँ की वह संख्या जो अभिक्रिया के वेग को निर्धारित करती है अभिक्रिया की कोटि  कहलाती है ।
2. आण्विकता का मान अभिक्रिया की कोटि के बराबर या अधिक हो सकता है , परन्तु कभी भी अभिक्रिया की कोटि का मान आण्विकता से अधिक नहीँ हो सकता है ।
3. किसी भी अभिक्रिया की आण्विकता का मान शून्य नहीँ हो सकता है जबकि अभिक्रिया की कोटि का मान शून्य हो सकता है ।
4. अभिक्रिया की आण्विकता की व्याख्या क्रियाविधि द्वारा करते हैँ जबकि अभिक्रिया की कोटि के मान की व्याख्या प्रयोगोँ द्वारा करते हैँ ।
5. आणविकता का मान 3 से अधिक हो सकता है , परन्तु अभिक्रिया की कोटि का मान अधिकतम 3 हो सकता है ।
6. आणविकता का मान पूर्णांक संख्या तथा धनात्मक हो सकता है परन्तु अभिक्रिया की कोटि का मान पूर्ण संख्या या भिन्नात्मक तथा ऋणात्मक हो सकता है ।
credit:Atul Study Center

Leave a Comment

Your email address will not be published.