मोललता क्या है परिभाषा, सूत्र, उदाहरण

मोललता की परिभाषा – molalta kya hai:

एक किलोग्राम विलायक में किसी विलेय की मोलो की संख्या को मोललता कहते है।  इसे m (small m)  से व्यक्त करते है।

मोललता का सूत्र:

मोललता (m) विलयन मोललता की परिभाषा

मोललता (molality ) (m) =  विलेय  के  मोलों  की  संख्या / विलायक  का  भार  ( ग्राम में )

विलेय के मोल = विलेय का भार (ग्राम में ) / अणुभार

मोललता (m)  = विलेय का ग्राम में भार / अणुभार x विलायक का भार (kg में)

उदारहण के लिए:   1.00 mol kg–1 (1.00 m) KCl का जलीय विलयन का अर्थ है कि 1 mol (74.5 g) KCl को 1 kg जल में घोला गया है।

द्रव्यमान प्रतिशत, ppm, मोल अंश तथा मोललता ताप पर निर्भर नहीं करते हैं, जबकि मोलरता ताप पर निर्भर करती है। ऐसा इसलिये होता है कि आयतन ताप पर निर्भर करता है जबकि द्रव्यमान नहीं।

मोललता का मात्रक (Unit of molality)

इसका मात्रक मोल प्रति किलोग्राम होता है जिसे मोल / किलोग्राम(mol/kg) भी लिखा जाता है.

यदि किसी विलयन की मोललता 3 मोल/ किलोग्राम है तो इसे 3 मोलल कहा जाता है और इसे 3 m से सूचित किया जाता है.

नोट :- किसी विलयन की मोललता ताप, दाब पर निर्भर नहीं करती है क्योंकि यह विलायक के द्रव्यमान से सम्बंधित है और द्रव्यमान पर ताप और दाब का प्रभाव नहीं पड़ता है.

Note:

  • मोललता की इकाई मोल/kg  है।
  • मोललता ताप से प्रभावित नहीं होती है क्यूंकि यह आयतन से सम्बंधित नहीं है।

मोललता का प्रयोग 

मोललता का प्रयोग निम्नलिखित स्थितियों में किया जाता है-

1. क्वथनांक के निर्धारण में 

2. हिमांक के निर्धारण में 

3. अनुसंख्य गुणधर्म (क्वथनांक का उन्नयन, हिमांक का अवनमन) के प्रयोग में 

मोललता के सवाल:

Ques: 6 ग्राम यूरिया (NH2-CO-NH2) 500 ग्राम जल में घुला हुआ है तो मोललता ज्ञात कीजिये।

Ans:  मोललता (m)  = विलेय का ग्राम में भार / अणुभार x विलायक का भार (kg में)

m = 6/60 x 500/1000

m = 0. 2 m  या 0. 2 मोल/kg

Ques:  11.1 ग्राम कैल्शियम क्लोराइड ( cacl) 2 किलोग्राम जल में घुला हुआ है तो मोललता ज्ञात करो।

Ans: मोललता (m ) = 11.1 / 111 x 2

m   = 1/20

m = 0.5 m

Ques:  4.9 ग्राम सल्फ्यूरिक अम्ल ( H2SO) 250 ग्राम जल में घुला हुआ है तो मोललता ज्ञात करो।

Ans:   मोललता (m)  = विलेय का ग्राम में भार / अणुभार x विलायक का भार (kg में)

m   = 4.9 / 98 x 250/1000

m   =  2/10 = 0.2 m

Credit: Shubham lecturer

FAQs

  • शुद्ध जल की मोललता कितनी होती है?

    18 M

  • मोललता पर ताप का क्या प्रभाव पड़ता है?

    ताप बढ़ाने पर मोलरता घट जाती है क्योंकि विलयन का आयतन ताप बढ़ाने पर बढ़ जाता है।

  • आसुत या शुद्ध जल की मोलरता क्या है?

    आसुत जल वह जल है जिसकी अनेक अशुद्धियों को आसवन के माध्यम से हटा दिया गया हो। आसवन में पानी को उबालकर उसकी भाप को एक साफ़ कंटेनर में संघनित किया जाता है। यह पीने के लिए उपयुक्त नहीं होता है क्योंकि इसमें जीवन के लिए आवश्यक लवण अनुपस्थित होते है।

  • मोलरता और मोललता में अंतर क्या है?

    मोलरता एवं मोललता में कोई दो अंतर लिखिए। मोलरता एक लिटर विलयन में किसी पदार्थ के विलेय में मोलो की संख्या मोलरता कहलाती हैं। मोललता विलायक कि मात्रा से संबंधित होती है। मोललता पर ताप का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.