जैव निम्नीकरणीय बहुलक

जैव निम्नीकरणीय बहुलक (Biodegradable polymorphism) :

प्राकृतिक बहुलकों का जीवाणुओं द्वारा अपघटन हो जाता है इन्हे जैव निम्नीकरणीय बहुलक कहते है।

जैसे – स्टार्च , सेलुलोस , प्रोटीन आदि।


अधिकांशत:

संश्लेषित बहुलकों का जीवाणुओं द्वारा अपघटन नहीं हो पाता अतः इनका अपशिष्ट पर्यावरण प्रदुषण की विकट समस्या उत्पन्न करता है।


इस समस्या का निराकरण करने के लिए कुछ ऐसे संश्लेषित बहुलक बनाये गए जिनका जीवाणु आसानी से अपघटन कर सके ये जैव निम्नीकरणीय बहुलक निम्न है।

  1. पॉली B-हाइड्रोक्सी ब्यूटिरेट को -B हाइड्रोक्सी वैलेरेट (PHBV) यह एक पॉली एस्टर बहुलक है , यह निम्न एकलको से मिलकर बनता है।
    i. B- हाइड्रॉक्सी ब्यूटरिक अम्ल
    ii. B- हाइडॉक्सी वैलेरिक अम्ल
  2. नायलॉन-2 , नायलॉन-6 :
    यह पॉली ऐमाइड बहुलक है यह निम्न एकलको से बनता है।
    i. ग्लाइसिन या 2- amino ethanoic acid
    ii. 6-amino hexanoic acid या amino caproic acid

Remark:

दोस्तों अगर आपको इस Topic के समझने में कही भी कोई परेशांनी हो रही हो तो आप Comment करके हमे बता सकते है | इस टॉपिक के expert हमारे टीम मेंबर आपको जरूर solution प्रदान करेंगे|


यदि आपको https://hindilearning.in वेबसाइट में दी गयी जानकारी से लाभ मिला हो तो आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते है |

Leave a Comment

Your email address will not be published.