सान्द्रित अयस्क से अशुद्ध धातु प्राप्त करना

सान्द्रित अयस्क

सान्द्रित अयस्क से अशुद्ध धातु प्राप्त करने की निम्नलिखित विधि है |

1.सान्द्रित अयस्क से धातु ऑक्साइड बनाना

2. धातु ऑक्साइड से अशुद्ध धातु प्राप्त करना

  • सान्द्रित अयस्क से धातु ऑक्साइड बनाना:

यह दो प्रकार से किया जाता है

1.निस्तापन :

सान्द्रित अयस्क को वायु की कम मात्रा में गलनांक से कम ताप पर गर्म करते है जिससे नमी तथा CO2 बाहर निकल जाती है।

प्रायः कार्बोनेट तथा जलयोजित ऑक्साइड का ही निस्तापन किया जाता है।

ZnCO3  = ZnO + CO2

CaCO3.MgCO3  = CaO + MgO + 2CO2

Fe2O3.3H2O  =  Fe2O3 + 2H2O

2. भर्जन :

सांद्रित अयस्क को वायु की उपस्थिति में गलनांक से कम ताप पर गर्म करते है।

प्रायः सल्फाइड अयस्कों का ही भर्जन किया जाता है।

2ZnS + 3O2  = 2ZnO + 2SO2

2PbS + 3O2 = 2PbO + 2SO2

2Cu2S  + 3O2 = 2Cu2O + 2SO2

  • धातु ऑक्साइड से अशुद्ध धातु प्राप्त करना :

धातु ऑक्साइड की क्रिया कोक (कार्बन) या CO से करने पर अशुद्ध धातु प्राप्त होती है।

ZnO + CO = Zn + CO2

Fe2O3  3C  = 2Fe + 3CO

credit:Ak career academy

दोस्तों अगर आपको इस Topic के समझने में कही भी कोई परेशांनी हो रही हो तो आप Comment करके हमे बता सकते है | इस टॉपिक के expert हमारे टीम मेंबर आपको जरूर solution प्रदान करेंगे|


यदि आपको https://hindilearning.in वेबसाइट में दी गयी जानकारी से लाभ मिला हो तो आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते है |

Leave a Comment

Your email address will not be published.