Viyojan Abhikriya

वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं? – Viyojan Abhikriya

Viyojan Abhikriya:वियोजन अभिक्रिया किसे कहते हैं?  परीक्षा के दृष्टिकोण से एक महत्वपूर्ण टॉपिक है. अक्सर इस विषय से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है. अतः परीक्षार्थियों को वियोजन अभिक्रिया से जुड़े सभी सम्बंधित प्रश्नों का भलीभांति तैयार कर लेना चाहिए.

Viyojan Abhikriya

जिस अभिक्रिया में एकल पदार्थ विभाजित हो कर दो या दो से अधिक पदार्थ का निर्माण करता है वियोजन अभिक्रिया कहलाता है।

उदाहरण-CaCO3= CaO+CO2

जब कोई पदार्थ किसी अभिक्रिया के बाद दो या अधिक उत्पाद प्रदान करता है तो उस अभिक्रिया को वियोजन अभिक्रिया कहते हैं। वियोजन अभिक्रिया के कुछ उदाहरण नीचे दिये गये हैं।

जब फेरस सल्फेट को एक टेस्ट ट्यूब में गर्म किया जाता है तो फेरस सल्फेट वियोजित हो जाता है और फेरिक ऑक्साइड, सल्फर डाइऑक्साइड और सल्फर ट्राइऑक्साइड का निर्माण होता है।

2FeSO4 (s) ⇨ Fe2O3 (s)+ SO2 (g)+ SO3 (g)

जब कैल्सियम कार्बोनेट (चूना पत्थर) को गर्म किया जाता है तो यह वियोजित होकर कैल्सियम ऑक्साइड और कार्बन डाइऑक्साइड का निर्माण करता है।

CaCO3 (s) ⇨ CaO (s) + CO2 (g)

इन सभी अभिक्रियाओं में अभिक्रिया मिश्रण को ऊष्मा प्रदान की गई थी। इसका मतलब है कि इन अभिक्रियाओं में ऊष्मा का शोषण हुआ। जिस अभिक्रिया में ऊष्मा का शोषण होता है उसे ऊष्माशोषी अभिक्रिया कहते Viyojan Abhikriyaहैं।

ऊर्जा के स्रोत के आधार पर वियोजन अभिक्रिया के कई प्रकार होते हैं; जैसे कि ऊष्मीय वियोजन, इलेक्ट्रोलिटिक वियोजन, प्रकाशीय वियोजन, आदि।

उदाहरण: जब लेड नाइट्रेट को गर्म किया जाता है तो यह वियोजित होकर लेड ऑक्साइड, नाइट्रोजन ऑक्साइड और ऑक्सीजन का निर्माण करता है।

2Pb(NO3)2 (s)⇨ 2PbO (s) + 4NO2 (g) + O2 (g)

जब सिल्वर क्लोराइड को सूर्य की रोशनी में रखा जाता है यह वियोजित होकर सिल्वर और क्लोरीन का निर्माण करता है। सिल्वर क्लोराइड एक सफेद पाउडर है जो सूर्य की रोशनी पड़ते ही ग्रे रंग का हो जाता Viyojan Abhikriyaहै।

2AgCl (s) ⇨ 2Ag (s) + Cl2 (g)

सिल्वर ब्रोमाइड एक हल्का पीला पाउडर है जो सूर्य की रोशनी पड़ते ही ग्रे रंग का हो जाता है।

2AgBr (s) ⇨ 2Ag (s) + Cl2 (g)

सिल्वर हैलाइड का इस्तेमाल फोटोग्राफिक कागज में होता है क्योंकि इस तरह का कागज प्रकाश के प्रति संवेदंशील होता है।

credit:The STUDY HELPER

आर्टिकल में आपने वियोजन अभिक्रिया  को पढ़ा। हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.