Yogatmak Abhikriya

योगात्मक अभिक्रिया किसे कहते हैं? – Yogatmak Abhikriya

Yogatmak Abhikriya:योगात्मक अभिक्रिया किसे कहते हैं?  परीक्षा के दृष्टिकोण से एक महत्वपूर्ण टॉपिक है. अक्सर इस विषय से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है. अतः परीक्षार्थियों को योगात्मक अभिक्रिया से जुड़े सभी सम्बंधित प्रश्नों का भलीभांति तैयार कर लेना चाहिए.

Yogatmak Abhikriya

वह अभिक्रियाऐं जिसमें असंतृप्त यौगिक अणु जैसे – H2, Cl2, आदि से क्रिया करके अन्य संतृप्त यौगिक बनाता है योगात्मक अभिक्रिया कहलाती है।

72. हाइड्रोजन का योग : एथार्इन, उत्प्रेरक की उपस्थिति में हाइड्रोजन से किया करके एथेन देती है, कार्बन-कार्बन ित्राबन्ध में दो हाइड्रोजन अणुओं को जोड़ा जाता है।

73. क्लोरीन का योग : क्लोरीन के दो अणु, एथार्इन से क्रिया करके 1, 1, 2, 2-टेट्राक्लोरोएथेन बनाते है।

74. HCl का योग : मर्क्युरिक क्लोरार्इड (HgCl2) की उपस्थिति में एथेन, HCl से क्रिया करके विनार्इल क्लोरार्इड बनाती है जो पोलीविनार्इल क्लोरार्इड (PVC) का एकलक है। (प्लास्टिक में प्रयुक्त)

credit:Doubtnut

आर्टिकल में आपने योगात्मक अभिक्रिया  को पढ़ा। हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.